रावण बनना भी कहां आसान…

रावण में अहंकार था तो, पश्चाताप भी था... रावण में वासना थी, तो संयम भी था... रावण में सीता के अपहरण की ताकत थी, तो बिना सहमति परस्त्री को स्पर्श भी न करने का संकल्प भी था... सीता जीवित मिली ये राम की ही ताकत थी... पर पवित्र मिली ये रावण की भी मर्यादा थी... …

Continue reading रावण बनना भी कहां आसान…

क्या सोचे??? 

हम उससे वफा निभा रहे है जो खुद ही बेवफा है... हम उसे चाह रहे है जिसे प्यार का अर्थ ही नही पता है... अब सोचे तो क्या सोचे हम?  तुम से वफा होगी? प्यार को समझोगे तुम?  या फिर हमे गलत ठेहराकर गैर हि रहोगे तुम? ❤ Translation: I am being loyal to someone …

Continue reading क्या सोचे???